REET 2022 Psychology Practice Set 05 : विभिन्न TET परीक्षाओं में पूछे गए इन 30 महत्वपूर्ण प्रश्नों का करें अध्ययन

REET 2022 Psychology Practice Set 05 : REET परीक्षा की तिथि 14 या 15 मई निर्धारित की गई है, विद्यार्थियों ने पूरी लग्न और मेहनत के साथ तेयारी शुरू भी कर दी है, आपकी तैयारी को और अधिक मजबूती प्रदान करने के लिए हम आपके लिए ले कर आये है विगत परीक्षाओ में पूछे गये 30 अति महत्वपूर्ण प्रश्न जो आपकी तेयारी को और अधिक मजबूती प्रदान करेंगे| REET विद्यार्थी ईन प्रश्नों का एक बार गहनता के साथ अवश्य अध्यन करे |

REET 2022 Psychology Practice Set 05

1. व्यक्तित्व मापन की प्रसंगात्मक बोध विधि एवं बाल प्रसंगात्मक बोध विधि को किस प्रकार की विधियां कहा जाता है?
(A) आत्मनिष्ठ विधियां
(A) वस्तुनिष्ठ विधियां
C) प्रक्षेपी विधियां
(D) मनोविश्लेषणात्मक विधियां
ANS : C

2. एक व्यक्ति के अचेतन मन को समझने के लिए कौनसी विधि सबसे उपयुक्त है?
(A) मनोविश्लेषण विधि।
(B) प्रक्षेपी विधि
(C) वस्तुनिष्ठ विधि
(D) व्यक्तिनिष्ठ विधि
ANS : B

3. एक बच्चा बार-बार झूठ बोलता है तथा अपने सहपाठियों से झगड़ता रहता है। बच्चे के इस व्यवहार को समझने के लिए एक शिक्षक होने के नाते आप किस विधि का प्रयोग करेंगे?
(A) निरीक्षण अथवा बार्हिदर्शन विधि
(B) समाजमिति विधि
(C) प्रश्नावली विधि
(D) व्यक्ति इतिहास विधि
ANS : D

4. सुमेलित नहीं है
(A) समाजमिति विधि – जेकाब मोरेनो
(B) बाल अर्न्तबोध परीक्षण – लियोपोल्ड बैलॉक
(C) प्रासंगिक अन्तर्बोध – टिचनर
(D) चित्र नैराश्य विधि – रोजेनविंग
ANS : C

5. गैरेट के वर्गीकरण के अनुसार कौनसा प्रेरकों का एक वर्गीकरण नहीं है
(A) स्वाभाविक प्रेरक
(B) जैविक प्रेरक
C) सामाजिक प्रेरक
(D) मनोवैज्ञानिक प्रेरक
ANS : A

6. नकारात्मक पुनर्बलन का अर्थ है
(A) ऐसा पुनर्बलन जो सही अनुक्रियाओं की दर को बढ़ाता है.
B. ऐसा पुनर्बलन जो सही अनुक्रियाओं की दर को कम करता है.
(C) ऐसा पुनर्बलन जो सही अनुक्रियाओं की दर को न बढ़ाता है न कम करता है,
(D) ऐसा पुनर्बलन जो सही अनुक्रियाओं की दर को कभी-कभी बढ़ाता है तथा कभी-कभी कम करता है,
ANS : B

7. इनमें से कौनसा एक अन्यों से भिन्न है
(A) प्रेरक
(B) आवश्यकता
(C) चालक
(D) उद्दीपक
ANS : A

8. एक शिक्षक को यह अवश्य पता होना चाहिए कि सशक्त अभिप्रेरणा अधिगम के लिए प्रभावशाली कारक है, क्योंकि इससे बालक-
(A) ध्यान केन्द्रित करता है
(B) आनन्दित रहता है
ACY जल्दी सीखता है
(D) स्वस्थ रहता है
ANS : C

9. निम्नलिखित में से कौनसा कृत्रिम अभिप्रेरणा का एक उदाहरण है
(A) सुरक्षा
(B) प्यास
(C) प्रतिष्ठा
(D) भूख
ANS : C

10. प्रक्षेपण विधि में व्यक्तित्व का मापन होता है?
(A) प्रत्यक्ष रूप से
(B) परोक्ष रूप से
(C) स्पष्ट रूप से
(D) कोई नहीं
ANS : B

11. रोर्शा स्याही धब्बा परीक्षण से व्यक्तित्व के किस पक्ष की जानकारी प्राप्त की जा सकती है?
(A) ज्ञानात्मक एवं भावात्मक पक्ष की
(B) क्रियात्मक एवं ज्ञानात्मक पक्ष की
(C) ज्ञानात्मक, भावात्मक व क्रियात्मक पक्ष की
(D) ज्ञानात्मक एवं क्रियात्मक पक्ष की
ANS : C

12. प्रासंगिक अन्तर्बोध परीक्षण की कौनसी एक विशेषता नहीं है?
(A) इस विधि के प्रतिपादक एच.ए. मुरे हैं जिन्होंने बाद में मार्गन के साथ मिलकर इस परीक्षण में संशोधन किया.
(B) इस विधि में कुल 31 कार्ड होते हैं जिनमें से 30 कार्डो पर ही चित्र बने होते हैं.
(C) इस विधि के लिए समय-सीमा का विशेष रूप से ध्यान रखा जाता है,
(D) यह विधि किशोर तथा प्रौढ व्यक्तियों के व्यक्तित्व की जांच हेतु प्रयुक्त होती है.
ANS : C

13. टी.ए.टी. परीक्षण में उन कार्यों की संख्या कितनी हैं जिन्हें स्त्रियों तथा पुरूषों दोनों के व्यक्तित्व मापन हेतु उभयनिष्ठ उपयोग में लाया जाता है तथा उन पर चित्र भी बने होते हैं?
(A) 12
(B) 10
(C) 31
(D) 15
ANS : B

14. ‘ बालक की विवेचना (तर्क) तार्किक नहीं है और यह अन्तर्ज्ञान (अन्तर्बोध) पर आधारित है न कि व्यवस्थित तर्क पर।’ पियाजे के अनुसार संज्ञानात्मक विकास की यह अवस्था कहलाती है?
(a) संवेदी गामक काल
(b) पूर्व-क्रियात्मक काल
(c) मूर्त क्रियात्मक काल
(d) औपचारिक क्रियात्मक काल
ANS : B

15. एक बालक जिसे मानव सम्पर्क से पृथक बड़ा किया गया है, प्रायः दीर्घकाल तक अत्यधिक भाषा की कमी को दर्शाता है, जो बाद में भाषा उद्भाषन अनुभवों द्वारा पूर्ण रूप से बिरले ही पूरी होती है। यह साक्ष्य भाषा विकास के कौनसे पक्ष पर बल देता है?
(a) वातावरणीय
(b) जैविकीय
(c) अन्त: क्रियावादी
(d) व्यावहारिक
ANS : C

16. बालकों की सामाजिक दक्षता के विकास के लिए निम्नलिखित में से कौनसी परवरिश शैली अधिकतम प्रभावी है?
(a) अधिनायकवादी
(6) लापरवाह
(c) प्राधिकारिक
(D) कृपाल
ANS : C

17. विकास के संबंध में निम्नलिखित में से कौनसा है?
(a) यह पूर्वानुमान के अनुसार नहीं होता है।
(b) यह आनुवांशिकी और वातावरण की अन्त क्रिया का परिणाम है।
(c) सभी व्यक्ति समान दर से विकास करते हैं।
(d) विकास विशिष्ट से सामान्य की ओर अग्रसर होता है।
ANS : B

18. चॉमस्की के अनुसार, भाषा अर्जित करने की एक अन्तर्जात क्षमता है, जो मानव को जैविक वंशागति के फलस्वरूप प्राप्त अद्वितीय क्षमता है, को कहते हैं-
(a) भाषा अनुकूलन श्रेणी
(b) भाषा अर्जन साधन/ तंत्र
(c) भाषा स्वीकार्य इच्छा
(d) भाषा जान
ANS : B

19. विकास के पक्ष (क्षेत्र) जैसे कि शारीरिक, संज्ञानात्मक, सामाजिक और संवेगात्मक निम्नलिखित में से कौनसी प्रक्रिया से विकसित होते हैं?
(a) पृथकता से
(b) आंशिकता से
(c) यादृच्छिकता से
(d) समग्रता और साकल्यता (सम्पूर्णता) से
ANS : D

20. वाइगोत्स्की के अनुसार, वह कार्य (कृत्य) जो बालक के स्वयं के लिए अत्यधिक कठिन है, परन्तु किसी प्रौढ़ और अधिक कुशल साथी की सहायता से करना संभव हो, कहलाता है
(a) निर्देशित सहभागिता
(b) स्कैपफोल्डिंग (पाड़ या ढाँचा)
(c) आसन्न विकास क्षेत्र
(d) अन्त: व्यक्तिनिष्टता
ANS : B

21. अधिगम है|
(a) जो कुछ हम जानते हैं, वह सब अधिगम किया हुआ है।
(b) व्यवहार, ज्ञान और कौशल पर तुलनात्मक स्थायी प्रभाव है।
(c) प्रत्यक्ष रूप से अवलोकन और मापन योग्य है।
(d) विशिष्ट आयु स्तर तक सीमित है।
ANS : B

22. जीन पियाजे के संज्ञानात्मक विकास के सिद्धांत के अनुसार, परिकल्पित निगमनात्मक तर्क किस अवधि में विकसित होता है?
(a) संवेदी-चालक अवस्था
(b) पूर्व संक्रियात्मक अवस्था
(c) मूर्त संक्रियात्मक अवस्था
(d) अमूर्त संक्रियात्मक अवस्था
ANS : D

23. जीन पियाजे के अनुसार, बच्चे-
(a) को पुरस्कार एवं दण्ड के सिद्धांतों का प्रयोग करते हुए विशिष्ट तरीके से व्यवहार करना एवं सीखना सिखाया जा सकता है।
(b) ज्ञान को सक्रिय रूप से संरचित करते हैं, वे दुनिया में व्यवहार कौशल का प्रयोग करते हैं तथा अन्वेषण करते हैं।
(c) प्रेक्षणात्मक अधिगम की प्रक्रिया का अनुसरण करते हुए दूसरों का अवलोकन करके सीखते हैं।
(d) को उद्दीपन-अनुक्रिया संबंधी के सावधानीपूर्ण नियंत्रण के द्वारा एक विशेष तरीके से व्यवहार करने के लिए अनुबंधित किया जा
सकता है।
ANS : B

24. चालक विकास की दर में व्यक्तिगत विविधताएँ होती है, फिर भी चालक विकास का क्रम ……… से …….. तक है।
(a) परिष्कृत (सूक्ष्म) चालक विकास, अपरिष्कृत (स्थूल) चालक विकास
(b) शीर्षगामी, अधोगामी
(c) अधोगामी, शीर्षगामी
(d) अपरिष्कृत (स्थूल) चालक विकास, परिष्कृत (सूक्ष्म) चालक विकास
ANS : D

25. शंकु का पृष्ठीय क्षेत्रफल ज्ञात करना सीखने के बाद, एक बालक शंकु-आकार तम्बु बनाने के लिए आवश्यक कपड़े का मापन ज्ञात करने में समर्थ होता है। उसके अधिगम की प्रक्रिया किसका दृष्टांत है?
(a) शास्त्रीय अनुकूलन
(b) क्रियाप्रसूत अधिगम
(c) संबंधवाद अधिगम
(d) अधिगम का स्थानांतरण
ANS : D

26. कौनसा अभिप्रेरणा का घटक नहीं है?
(a) अन्तर्नोद
(b) आवश्यकताएँ
(c) प्रोत्साहन
(d) रटन्तस्मृति
ANS : D

27. निम्न में से कौनसा उदाहरण अर्जित प्रेरक का है?
(a) भूख
(b) पुरस्कार
(c) रूचि
(d) विश्राम
ANS : B, C

28. अभिप्रेरणा वर्णित होती है
(a) ज्ञानात्मक जागृति द्वारा
(b) भावात्मक जागृति द्वारा
(c) दोनों (a) व (b)
(d) इनमें से कोई नहीं
ANS : C

29. सशक्त अभिप्रेरणा सीखने का प्रभावशाली घटक है
(a) इससे बालक स्वस्थ रहता है।
(b) ध्यान करता है।
(c) शीघ्र सीखता है।
(d) प्रसन्न रहता है।
ANS : C

30. एक बच्चा खिड़की के सामने से एक कौवे को उड़ता हुआ. देखता है और कहता है, ” एक पक्षी।” इससे बच्चे के विचार के बारे में क्या पता चलता है? REET 2022 Psychology Practice Set 05
A. बच्चे की स्मृतियाँ पहले से भण्डारित होती है।
B. बच्चे में ‘ पक्षी’ का प्रत्यय विकसित हो चुका है।
C. बच्चे ने अपने अनुभव बताने के लिए भाषा के कुछ उपकरणों का विकास कर लिया है।
(a) B केवल c
(b) A, B और C
(c) केवल B
(d) A और B
ANS : B

Read also other topic of psychology in hindi

Leave a Reply

%d bloggers like this: