मुहावरे | Muhavare in hindi PDF

जब कोई वाक्यांश अपने प्रचलित अर्थ को अभिव्यक्त न कर किसी विशेष अर्थ में रूढ़ हो जाए, तब वह मुहावरा कहलाता है|
जैसे:- ‘ नौ दो ग्यारह होना ‘ मुहावरा गणितीय संक्रिया को न बताकर ‘ भाग जाना ‘ अर्थ को घोषित करता है| Muhavare In Hindi PDF

Muhavare In Hindi PDF

  1. अंक भरना – स्नेहपूर्वक गले मिलना
  2. अंग-अंग ढीला होना – बहुत थक जाना
  3. अंगारे उगलना – क्रोध में कटु वचन कहना
  4. अंधा बनना – जानते हुए भी ध्यान न देना
  5. अंधे की लाठी होना – एकमात्र सहारा
  6. अंधेर खाता होना – सही हिसाब न होना
  7. अक्ल का दुश्मन होना – मूर्ख होना
  8. अक्ल के घोड़े दौड़ाना – केवल कल्पनाएँ करना।
  9. आसमान सिर पर उठाना – अत्यधिक शोर करना
  10. आठ-आठ आँसू रोना – बुरी तरह रोना या पछताना
  11. आस्तीन का साँप होना – कपटी मित्र
  12. इतिश्री होना – अंत या समाप्त होना
  13. इधर-उधर की हाँकना – व्यर्थ की बातें करना
  14. ईट का जवाब पत्थर से देना – करारा जवाब देना
  15. ईट से ईंट बजाना – कड़ा मुकाबला करना
  16. ईद का चाँद होना – बहुत दिनों बाद दिखना
  17. इशारों पर नचाना – किसी को अपनी इच्छानुसार चलाना
  18. उंगली उठाना – निन्दा करना या आरोप लगाना
  19. उगल देना – सारा भेद प्रकट कर देना
  20. उंगली पर नचाना – किसी अन्य के इशारे पर चलना

Muhavare In Hindi PDF

  1. उड़ता तीर झेलना – अनावश्यक विपत्ति मोल लेना
  2. उड़ती चिड़िया पहचानना – थोड़े इशारे में ही सब कुछ समझ लेना
  3. उन्नीस बीस का फर्क होना – मामूली अन्तर
  4. उल्टी गंगा बहाना – रीति विरुद्ध कार्य करना
  5. उल्लू बनाना – मूर्ख बनाना
  6. अक्ल के पीछे लट्ठ लिए घूमना – बुद्धि विरुद्ध कार्य करना
  7. अगर-मगर करना – बहाने बनाना
  8. अड़ियल टटू होना – जिद्दी होना
  9. अपना उल्लू सीधा करना – अपना स्वार्थ सिद्ध करना
  10. अपना सा मुँह लेकर रह जाना – किसी अकृत कार्य के कारण लज्जित हो।
  11. अपनी खिचड़ी अलग पकाना – साथ मिलकर न रहना, अलग रहना
  12. अपने तक रखना – किसी दूसरे से न कहना
  13. अपने पैरों पर कुल्हाड़ी मारना – अपना नुकसान स्वयं करना
  14. अपने मुँह मियाँ मिठू बनना – अपनी प्रशंसा स्वयं करना
  15. आँखें खुलना – सजग या सावधान होना
  16. आँखेंचार होना – आमना-सामना होना
  17. आँखेंचुराना- नजर बचाना
  18. आँच न आने देना – जरा भी कष्ट न आने देना
  19. आँखों में खून उतरना – अत्यधिक क्रोध करना
  20. आँखों में धूल झोंकना – धोखा देना

100 मुहावरे PDF

  1. आँखों का तारा – अत्यन्त प्यारा
  2. आँखें बिछाना – प्रेमपूर्वक स्वागत करना
  3. आँखों पर परदा पड़ना – भले-बुरे की परख न होना
  4. आँच न आने देना – जरा भी कष्ट न आने देना
  5. आँचल पसारना – प्रार्थना करना
  6. आँसू पोंछना – धीरज व ढाढस बँधाना
  7. आँधी के आम होना – सस्ती चीजें
  8. आकाश के तारे तोड़ना – असंभव कार्य को अंजाम देना
  9. आईने में मुँह देखना – अपनी योग्यता की जाँच कर लेना
  10. आग बबूला होना – अत्यधिक क्रोध करना
  11. आग में घी डालना – क्रोध को बढ़ाने का कार्य करना
  12. आटे-दाल का भाव मालूम होना – जीवन के यथार्थ को जानना
  13. आकाश टूटना – अचानक बड़ी विपत्ति आना
  14. आड़े आना – बाधक बनना
  15. आपे से बाहर होना – वश में न रह पाना
  16. आग लगने पर कुआ खोदना – मुसीबत के समय उपाय खोजना
  17. एक आँख से देखना – समदृष्टि या समभाव होना
  18. एड़ी चोटी का जोर लगाना – बहुत प्रयास करना
  19. एक ही थाली के चट्टे-बट्टे होना – समान प्रवृत्ति के होना
  20. एक लाठी से हाँकना – सबके साथ एक-सा व्यवहार करना

MHAVARE LIST

  1. ऋण उतारना – कर्ज अदा करना
  2. ऋण मढ़कर जाना – अपना कर्ज किसी अन्य पर डालना
  3. एक और एक ग्यारह होना – संगठन में शक्ति होना
  4. उल्टी पट्टी पढ़ाना – गलत शिक्षा देना
  5. उल्टी माला फेरना – अहित सोचना
  6. ओखली में सिर देना – जान-बूझकर विपत्ति मोल लेना
  7. औने-पौने करना – कम लाभ या कम कीमत में बेच देना
  8. कच्चा चिट्ठा खोलना – रहस्य बताना
  9. कमर कसना – तैयार होना
  10. कलेजा ठंडा होना मन को शांति मिलना
  11. कागजी घोड़े दौड़ाना केवल कागजी कार्रवाई करना
  12. काठ का उल्लू होना – महामूर्ख होना, वज्र मूर्ख
  13. कानखड़े होना चौकन्ना होना
  14. का पकड़ना – गलती स्वीकार करना
  15. कान में तेल डालकर बैठना – सुनकर भी अनसुना करना
  16. क्रोध काफूर होना – गुस्सा गायब होना
  17. काल कवलित होना – मर जाना
  18. किताबी कीड़ा होना – हर समय पढ़ने में लगे रहना
  19. कूच करना – चले जाना
  20. कोढ़ में खाज होना – दु: ख में और दु: ख आना

MUHAVARE IN HINDI NOTES

  1. कमर कसना – किसी कार्य के लिए तैयार होना
  2. कलेजा मुँह को आना – घबरा जाना
  3. कान का कच्चा होना – जल्दी किसी के बहकावे में आना
  4. कान भरना – चुगली करना
  5. कोल्हू का बैल होना – निरंतर काम में जुटे रहना
  6. कौड़ी के मोल बेचना – अत्यन्त सस्ता होना
  7. कान पर जूं तक न रेंगना – कोई असर न पड़ना
  8. कंधे से कंधा मिलाना – साथ देना
  9. कन्नी काटना – आँख बचाकर निकलना
  10. कान कतरना – चतुराई दिखाना
  11. कलेजे का टुकड़ा होना – बहुत प्रिय
  12. कान खोलना – सावधान करना
  13. कुँए में भांग पड़ना – सबकी मति भ्रष्ट होना
  14. कीचड़ उछालना – अपमानित/ बेइज्जत करना
  15. कतर ब्योंत करना – काट-छाँट करना
  16. कफन की कौड़ी न होना – दरिद्र होना
  17. कब्र में पाँव लटकना – मृत्यु के निकट होना
  18. कमर कसना – तैयार होन
  19. कान भर जाना – सुनते सुनते पक जाना
  20. काम निकालना – अपना मतलब पूरा करना
  1. गड़े-मुर्दे उखाड़ना – पुरानी बातें करना
  2. गले मढ़ना – जबरन कार्य सौंपना
  3. गागर में सागर भरना – थोड़े शब्दों में बहुत कुछ कह देना
  4. गाजर मूली समझना – तुच्छ समझना, मामूली मानना
  5. गाल बजाना – बढ़-चढ़कर बातें करना
  6. गुड़ गोबर करना – बना कार्य बिगाड़ देना
  7. गिरगिट की तरह रंग बदलना – अवसरवादी होना
  8. गाँठ बाँधना – स्थायी रूप से याद रखना
  9. गाँठ पड़ना – द्वेष का स्थायी होना
  10. गूदड़ी का लाल होना – गरीबी में भी गुणवान होना
  11. गंगा नहाना – दायित्व से मुक्ति मिलना
  12. गाल फुलाना – गुस्सा होना
  13. घोड़े बेचकर सोना – निश्चंत होकर सोना
  14. घुटने टेकना – हार मानना
  15. घी के दीये जलना – खुशियाँ मनाना
  16. किला फतेह करना – किसी कठिन कार्य में सफलता प्राप्त करना
  17. खाल खींचना – बहुत मारना
  18. खाट पकड़ लेना – बहुत बीमार पड़ जाना
  19. खरी-खोटी कहना – भला-बुरा कहना
  20. खाक छानना मारे-मारे फिरना निरुद्देश्य भटकना
  21. खेत रहना – युद्ध में मारे जाना
  22. खाक में मिलना – नष्ट होना
  23. खून खौलना –अत्यधिक क्रोध आना
  24. खून-पसीना एक करना – कठोर परिश्रम करना
  25. ख्याली पुलाव पकाना – कोरी (व्यर्थ) कल्पनाएँ करना
  26. खून का चूंट पीकर रह जाना – चुपचाप गुस्सा सहन कर लेना
  27. खरी-खरी सुनाना – साफ-साफ कहना
  28. खून सूखना – भयभीत होना
  29. खटाई में पड़ना – कार्य में व्यवधान आना
  30. खिचड़ी पकाना – गुप्त योजना बनाना
  31. गंगा नहाना – किसी कठिन कार्य को पूर्ण करना

300+ important muhavre

  1. घड़ों पानी पड़ना – लज्जित होना
  2. घर फूंककर तमाशा देखना – अपना नुकसान होने पर भी मौज करना
  3. घाट-घाट का पानी पीना – स्थान-स्थान का अनुभव होना
  4. घास काटना – बिना गुणवत्ता कार्य करना
  5. घाव हरा होना – भूला दुख दर्द याद आना
  6. घर बसाना – विवाह कराना
  7. चींटी के पर निकलना – मृत्यु के दिन समीप आना
  8. चल बसना – मृत्यु होना
  9. चैन की बंशी बजाना – मौज करना
  10. चोली दामन का साथ होना – बहुत निकटता
  11. चिकना घड़ा होना – कुछ भी असर न होना, बेशर्म होना
  12. चाँदी का जूता मारना – घूस (रिश्वत) देना
  13. चार चाँद लगना – शोभा में वृद्धि होना
  14. चादर से बाहर पैर पसारना – आय से ज्यादा खर्च करना
  15. चूना लगाना – नुकसान करना
  16. चिराग तले अंधेरा होना – अपने दोष न देख पाना
  17. चार दिन की चाँदनी होना – अल्पकालीन सुख
  18. चूड़ियाँ पहनना – कायरता दिखाना
  19. चारों खाने चित्त होना – बुरी तरह हारना
  20. चंगुल में फँसना – पकड़ में आना
  21. चक्की पीसना – जेल की सजा भुगतना
  22. चिकना देख फिसल पड़ना – किसी के रूप या धन पर लुभा जाना
  23. चित्त उचटना – मन न लगना
  24. छक्के छुड़ाना – बुरी तरह हराना
  25. छठी का दूध याद आना – संकट में पड़ना
  26. छाती पर मूंग दलना – साथ रहकर परेशान करना
  27. छप्पर फाड़कर देना – बिना परिश्रम बहुत देना
  28. छाती पर पत्थर रखना – धैर्यपूर्वक कष्ट सहन करना
  29. छाती पर साँप लौटना – ईर्ष्या करना
  30. छाँह तक न छूने देना – समीप न आने देना
  31. छटे-छंटे फिरना – दूर-दूर रहना

मुहावरे

  1. छठे छमासे आना – कभी-कभी आना
  2. छप्पर पर फूस न होना – अत्यन्त गरीब होना
  3. छाती ठोकना – कठिन कार्य हेतु प्रतिज्ञा करना
  4. छींकते नाक कटना – छोटी बात पर चिढ़ना
  5. जले पर नमक छिड़कना – दुखी व्यक्ति को और दुखी करना
  6. जान हथेली पर रखना – मृत्यु की परवाह न करना
  7. जहर का यूंट पीकर रह जाना – कड़वी बात सहन करना
  8. जहर उगलना – कड़वी बातें कहना
  9. जी तोड़कर काम करना – बहुत परिश्रम करना
  10. जान पर खेलना – साहसी कार्य करना
  11. जिन्दा मक्खी निगलना – स्पष्ट दिखता हुआ अन्याय सहन करना
  12. जी चुराना कार्य से स्वयं को अलग रखना
  13. जहर उगलना अपमानजनक बातें कहना
  14. जड़ काटना समूल नष्ट करना
  15. जमीन आसमान एक करना – सभी उपाय करना
  16. जमीन आसमान का अंतर – बड़ा भारी अन्तर
  17. जान के लाले पड़ना – प्राण संकट में पड़ना
  18. जूतियाँ चाटना – चापलूसी करना
  19. जंजाल में पड़ना – संकट में पड़ना
  20. जलती आग में कूदना – जान-बूझकर विपत्ति में पड़ना
  21. जिन्दगी के दिन पूरे करना – मृत्यु के दिन समीप होना
  22. जिल्लत उठाना – अपमानित होना
  23. जी छोटा करना – हृदय के उत्साह में कमी
  24. जूठे हाथ से कुत्ता न मारना – अत्यधिक कंजूस होना
  25. झंडा गाड़ना – अधिकार करना
  26. टाँग अड़ाना – बाधा डालना
  27. टेढ़ी उँगली से घी निकालना – चतुराई से काम निकालना
  28. टेढ़ी खीर होना – कठिन काम
  29. टोपी उछालना – अपमानित करना
  30. टका सा जवाब देना – साफ-साफ मना करना
  31. टका सा मुँह लेकर रह जाना – लज्जित होना

Leave a Reply

%d bloggers like this: